पुलिस का खिलाफत पड़ा महंगा, युवा लोजपा जिलाध्यक्ष को थानाध्यक्ष ने जमकर पीटा

0
51

17 दिन पहले जिस थानाध्यक्ष को शराब कारोबारियों के साथ 5 लाख के सौदेबाजी के आरोप में पुलिस ने क्लीन चिट दे दिया था आज उसी थानाध्यक्ष को पद से हटाकर एसपी ने सर्किल इंस्पेक्टर को थाने की जिम्मेवारी सौपी है।मामला खैरा थाना से जुड़ा हुआ है।प्राप्त जानकारी के अनुसार खैरा थाना पुलिस ने आज 107 के मामले में लोक जनशक्ति पार्टी के युवा जिलाध्यक्ष निखिल कुमार को पकड़ा और उनकी जमकर पिटाई की।सदर अस्पताल में इलाज कराने पहुंचे निखिल ने खैरा थानाध्यक्ष अमरेंद्र पर पिटाई किये जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि थानाध्यक्ष ने उनके साथ बदले की भावना से ग्रसित होकर कार्रवाई की है।

मीडिया से बात करने के दौरान युवा जिलाध्यक्ष ने कहा कि कुछ दिन पहले एनटीपीसी खैरा थाना सेदो शराब धंधेबाजों को लाखों रुपये में डील के बाद भगा दिया गया था। इस मामले में उन्होंने डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को पत्र लिखकर पुलिस की नीति पर सवाल उठाया था।उसी घटना के बाद थानाध्यक्ष बदले की भावना से काम कर रहे थे और अंतत: 107 के मामले में गिरफ्तार कर बेरहमी से पिटाई की। पता चला कि 107 में गिरफ्तार किये गये निखिल को बांड डाउन के बाद छोड़ दिया गया। थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार ने अपने ऊपर लगे आरोप को पूरी तरह गलत बताया है। थानाध्यक्ष ने कहा कि वारंटी को हथकड़ी लगाकर गाड़ी में बैठाने के लिए भेजा गया था। मारपीट व अन्य आरोप पूरी तरह बेबुनियाद है।

ज्ञात हो कि 30 अप्रैल को खैरा थाना पुलिस द्वारा शराब धंधेबाजों को भगाने के मामले में एक ऑडियो वायरल हुआ था। जिसके बाद थाने में पदस्थापित मुंशी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था और ओडी अफसर को सस्पेंड भी किया गया था और इस मामले में लोजपा नेता ने डीजीपी का ध्यान आकृष्ट कराया था।मामले में एसपी दीपक वर्णवाल ने बताया कि निखिल कुमार पर एसडीओ के यहां से 107 का वारंट निकला था और थानाध्यक्ष ने उसे पकड़ा।पकड़ने के बाद उसे तुरंत एसडीओ कोर्ट भेजा जाना चाहिए था।परंतु पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर थानाध्यक्ष ने हाजत में बंद कर दिया।मामले में उनपर कार्रवाई के लिए चुनाव आयोग को लिखा गया है और उन्हें हटाकर सर्किल इंस्पेक्टर को चुनाव कार्य देखे जाने के लिए नियुक्त किया गया है।अमरेंद्र उसी थाने में कनीय अधिकारी के रूप में कार्य करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here