मतदान करने जाएं तो भूल से भी न ले जाएँ मोबाइल, हो सकती है जेल 

0
3
लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अंतिम सातवें चरण की वोटिंग 19 मई को है। इस चरण में काराकाट लोकसभा का चुनाव भी होना है और इस लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत तीन विधानसभा गोह, ओबरा और नबीनगर के कुल 967 बूथ आते हैं। इन बूथों पर मतदान की प्रक्रिया स्वच्छ एवं पारदर्शी हो उसके लिए जिला प्रशासन ने काफी कड़ी व्यवस्था की है।समाहरणालय के सभा भवन में आयोजित प्रेसवार्ता को संयुक्त रूप से सम्बोधित करते हुए जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी राहुल रंजन महिवाल एवं एसपी दीपक वर्णवाल ने बताया कि चुनाव आयोग द्वारा मतदान केंद्रों पर मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं है।
ऐसी स्थिति में यदि कोई भी मतदाता मतदान केंद्र पर मोबाइल लेकर जाएगा तो उसकी मोबाइल जप्त होगी और जेल की सजा भी हो सकती है। जिलाधिकारी ने बताया कि मतदान केन्द्र पर पोलिंग एजेंट को भी मोबाईल रखने की अनुमति नहीं है। मतदान केंद्र पर तैनात पीठासीन अधिकारी  को अपना मोबाइल ले जाने की अनुमति होगी। जब तक किसी भी प्रकार की आपातकालीन या कॉल नहीं होती है पुलिस अधिकारी को मतदान केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जा सकती है। भारत निर्वाचन आयोग की ओर से जारी निर्देश के अनुसार मतदान केंद्र में एक साथ तीन से चार मतदताओं की जाने की अनुमति नहीं है.एक मतदाता मतदान केंद्र में अपने साथ किसी भी प्रकार को हथियार और लिक्विड आइटम नहीं ले जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here